Followers

Saturday, 21 September 2013

मोदी की सबसे बड़ी चुनौती

मेरा लेख पढ़ें http://abpnews.newsbullet.in/blogtest/74/54742

9 comments:

  1. आपका ब्लॉग देखकर अच्छा लगा. अंतरजाल पर हिंदी समृधि के लिए किया जा रहा आपका प्रयास सराहनीय है. कृपया अपने ब्लॉग को “ब्लॉगप्रहरी:एग्रीगेटर व हिंदी सोशल नेटवर्क” से जोड़ कर अधिक से अधिक पाठकों तक पहुचाएं. ब्लॉगप्रहरी भारत का सबसे आधुनिक और सम्पूर्ण ब्लॉग मंच है. ब्लॉगप्रहरी ब्लॉग डायरेक्टरी, माइक्रो ब्लॉग, सोशल नेटवर्क, ब्लॉग रैंकिंग, एग्रीगेटर और ब्लॉग से आमदनी की सुविधाओं के साथ एक
    सम्पूर्ण मंच प्रदान करता है.
    अपने ब्लॉग को ब्लॉगप्रहरी से जोड़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें http://www.blogprahari.com/add-your-blog अथवा पंजीयन करें http://www.blogprahari.com/signup .
    अतार्जाल पर हिंदी को समृद्ध और सशक्त बनाने की हमारी प्रतिबद्धता आपके सहयोग के बिना पूरी नहीं हो सकती.
    मोडरेटर
    ब्लॉगप्रहरी नेटवर्क

    ReplyDelete
  2. Dear it's great if u back n write here ... :)like before u r perfect anchor ... All the best
    Olwas .. :)

    ReplyDelete
  3. ABP news is popular Hindi news channel watch ABPnews live at #YUPPTVINDIA http://www.yuppptv.in

    ReplyDelete
  4. प्रिय किशोर जी,नमस्कार ,शायद आप भारत के ही नहीं बल्कि दुनिया के एकमात्र ऐसे News Anchor हैं जो TV पर अपना कार्यक्रम शुरू या समाप्त करते समय दर्शकों का कभी भी अभिवादन या wish नहीं करते.आपको छोड़कर भारत और अमेरिका के शतप्रतिशत Anchor - TV पर अपना कार्यक्रम शुरू करते ही दर्शकों को "नमस्कार", मैं हूं आपके साथ (अपना नाम बताते हैं) कार्यक्रम समाप्त करने के पहले "तब तक के लिए नमस्कार" कहते हैं. मैं अमेरिका में 32 वर्ष रहने के बाद अवकाश प्राप्ति के बाद अब भारत वापस आकर रहने लगा हूं. By the way- USA में हिंदी के सबसे ज्यादा लोकप्रिय TV Anchor- NDTV Hindi के विनोद दुआ थे.इसका एक बड़ा कारण था वे हमेशा हाथ जोड़कर दर्शकों का अभिवादन करते थे.शायद अब वे NDTV के साथ नहीं हैं.नमस्कार करना या दर्शकों का अभिवादन करना किसी भी TV Anchor का सबसे खूबसूरत गुण है.आशा है आप अन्यथा नहीं लेंगे. मेरा E-mail ID है -
    aaditshukla925@gmail.com

    ReplyDelete
  5. मैंने अमेरिका में ही कहीं पढ़ा था कि NDTV के विनोद दुआ के "नमस्कार करने" के उनके तरीके , उनकी विनम्रता से TV दर्शक इतने अभिभूत रहते थे कि भारत व विदेश के कई प्रसिद्ध व्यक्ति व हस्तियों ने भारत के राष्ट्रपति को पत्र लिखा था कि उन्हें (विनोद दुआ को)कमसे कम"पद्मश्री" से सम्मानित किया जाय.उन्हें पद्मश्री मिलने का मात्र यही तो नहीं किन्तु यह भी एक बहुत बड़ा कारण था - TV पर उनकी विनम्रता.youtube का उनका एक छोटा सा क्लिप यहाँ post रहा हूं. सस्नेह - आदित्य शुक्ला

    https://www.youtube.com/watch?v=Bq_Ps-4F7hs


    ReplyDelete
  6. Very great post. I simply stumbled upon your blog and wanted to say that I have really enjoyed browsing your weblog posts. After all I’ll be subscribing on your feed and I am hoping you write again very soon!

    ReplyDelete
  7. Hi, Really great effort. Everyone must read this article. Thanks for sharing.

    ReplyDelete
  8. Keep posting such good and meaningful articles. Good Job.

    ReplyDelete
  9. Hey keep posting such good and meaningful articles.

    ReplyDelete